sad and love shayari

वो आज अपनी नजर में समा जाते हैं,
संवरते जाते हैं और मुस्कुराए जाते हैं।

 vo aaj apani najar mein sama jaate hain,
sanvarate jaate hain aur muskuraye jaate hain.

कांटे नसीब में हैं, फूलों की चाह मत कर,
ऐ मेरे दिल! संभल जा, फिर ये गुनाह मत कर।

kaante naseeb mein hain, phoolon kee chaah mat kar,
ai mere dil! sambhal ja, phir ye gunaah mat kar.

जो कुछ दिया है उसने, हंसकर कबूल करलें,
आंसू भी कीमती हैं खुशियां की चाह मत कर।

jo kuchh diya hai usane, hansakar kabool karalen,
aansoo bhee keematee hain khushiyon kee chaah mat karo.

खुशबू भरा चमन यह, किसी और के लिए है,
यह जानबूझ कर भी खुद को तबाह मत कर।

khushboo bhara chaman yah, kisee aur ke lie hai,
yah jaanbujh kar bhee khud ko tabaah mat kar.

किरणें तरस न खार्ती, शबनम की जिन्दगी पर,
थोड़ी सी धूप की खातिर, नीची निगाह मत कर।

kiranen taras na khatee, shabnam kee jindagi par,
thodi see dhoop kee khatir, neechee nigaah mat kar.

अपना गम भूलकर कोई देखें, सैकड़ों गम के मारे मिलेंगे,
दस्त हो, या कि वह हो गुलिस्तां सब तरफ बेसहारे मिलेंगे।

apana gam bhoolakar koi dekhen, saikadon gam ke maare milenge,
dast ho, ya ki vah ho gulistaan sab taraf besahaare milenge.

दर्द सीने में जरा जगा तो आंखें खुल गई,
दिल में कुछ चोंटे उभर आई तो आंसू आ गए।

dard seene mein jara jaga to aankhen khul gaee,
dil mein kuchh chonte ubhar aaee to aansoo aa gae.

देख लीजे चलके अपने चाहने वाले की लाश,
आप फरमाते थे, ऐसे कजा आती नहीं।

dekh leeje chalke apane chaahane vaale kee laash,
aap pharamaate the, aise kaja aate hain.

Post a Comment

0 Comments