sad shayari in hindi for life

कौन हमारा दर्द बंटाये कौन  हमारा थामे हाथ,
उनके नगर में जगमग-जगमग अपने देश में रात ही रात।

kaun hamaara dard bantaaye kaun hamaara thaame haath,
unake nagar mein jagmag-jagmag apane desh mein raat hee raat.

कहने देती नहीं कुछ मुँह से मुहब्बत तेरी,
लव पै रह जाती है आ-आके शिकायत तेरी।

kahane detee nahin kuchh munh se muhabbat teri,
lav pai rah jaatee hai aa-aake shikaayat teri.

मत देख लव की हंसी की, ये हसी नहीं अश्क मेरे जाम है,
लाखों अश्क बहाकर हमने, पायी मुहब्बत में मुस्कान है।

mat dekh lav kee hansee kee, ye hasee nahin ashk mere jaam hai,
laakhon ashk bahaakar hamane, paayee muhabbat mein muskaan hai.

मर-मर कर जीना ऐ साकी ये पैमाने की आदत है,
औरों को पिलाऊँ, प्यासा हूँ, बस यही मेरी शराफत है।

mar-mar kar jeena ai saakee ye paimaane kee aadat hai,
auron ko pilaoon, pyaasa hoon, bas yahee meree sharaaphat hai.

कितनी हंसी जिन्दगी है इसमें है लाखों गम भी,
मौत की परवाह किए बिना जिए इस जहां में हम भी।

kitani hasee jindagee hai esmein hai laakhon gam bhee,
maut kee paravaah kiye bina jiye is jahaan mein ham bhee.

सनम इस मस्त मौसम में भी, अगर तुमसे मुलाकात न हुई,
घायल दिल तड़पता रहेगा, हाय यह कैसी मौहब्बत हुई।

sanam is mast mausam mein bhee, agar tumase mulaakaat na huee,
ghaayal dil tadpata rahega, haay yah kaisi mauhabbat huee.

Post a Comment

0 Comments