julfe shayari in hindi

कहना है उन्हें ये कि हम होंगे न मुखातिब,
पर कहते नहीं जुल्फ बनाने में लगे हैं।

kahna hai unhen ye ki ham honge na mukhaatib,
par kahte nahin julph banaane mein lage hain.

julfe shayari

काली चुनरी काली जुल्फ काला रंग कढ़ाई का,
खत कैसे लिखु प्रिये वक्त है पढ़ाई का।

kaalee chunaree kaalee julph kaala rang kadhayi ka,
khat kaise likhu priye vakt hai padhaee ka.

Zulf Shayari in Hindi

उफ तेरी क्या जुल्फे हैं, जो खुशबू बरसाती हैं।
तू क्या चीज है, जो हमको तड़पाती है।।

julfe shayari in hindi

uph teri kya julphe hain, jo khushbu barsati hain
tu kya cheej hai, jo hamko tadpati hai

zulfein shayari in hindi

जुल्फें उठा के पढ़ना तुमको मेरी कसम है,
मुस्कुराके पढ़ना तुमको मेरी कसम है।

julphen utha ke padhana tumako meri kasam hai,
muskuraake padhana tumako meri kasam hai.

Post a Comment

Previous Post Next Post